अहमद फ़राज़ शायरी – उसका किरदार परख लेना यक़ीन

उसका किरदार परख लेना यक़ीन से पहले,
मेरे बारे में जो तुमसे बुरा कहता होगा !! – अहमद फ़राज़