कैफ़ी आज़मी शायरी – पेड़ के काटने वालों को

पेड़ के काटने वालों को ये मालूम तो था,
जिस्म जल जाएँगे जब सर पे न साया होगा। – कैफ़ी आज़मी