Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

निदा फ़ाज़ली शायरी – हर तरफ हर जगह बेशुमार

हर तरफ हर जगह बेशुमार आदमी,
फिर भी तनहाइयों का शिकार आदमी
सुबह से शाम तक बोझ ढोता हुआ,
हर तरफ आदमी का शिकार आदमी..!! – निदा फ़ाज़ली

Updated: July 7, 2017 — 2:33 pm
loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017