फैज अहमद फैज शायरी – रंग पैराहन का ख़ुशबू जुल्फ़

रंग पैराहन का, ख़ुशबू जुल्फ़ लहराने का नाम
मौसमे गुल है तुम्हारे बाम पर आने का नाम – फैज अहमद फैज