Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

बशीर बद्र शायरी – मुझे मालूम है उस का

मुझे मालूम है उस का ठिकाना फिर कहाँ होगा
परिंदा आसमाँ छूने में जब नाक़ाम हो जाये – बशीर बद्र

Updated: July 31, 2017 — 12:03 pm
loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017