मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी – ख़त लिखेंगे गरचे मतलब कुछ

ख़त लिखेंगे गरचे मतलब कुछ न हो,
हम तो आशिक़ हैं तुम्हारे नाम के! – मिर्ज़ा ग़ालिब