मुनव्वर राना शायरी – किसी दिन मेरी रुस्वाई का

किसी दिन मेरी रुस्वाई का ये कारण न बन जाये…
तुम्हारा शहर से जाना,….मेरा बीमार हो जाना… – मुनव्वर राना