हफ़ीज़ जालंधरी शायरी – रंग बदला यार ने वो

रंग बदला यार ने वो प्यार की बातें गईं
वो मुलाक़ातें गईं वो चाँदनी रातें गईं – हफ़ीज़ जालंधरी