Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

हसरत मोहानी शायरी – फिर और तग़ाफ़ुल का सबब

फिर और तग़ाफ़ुल का सबब क्या है ख़ुदाया
मैं याद न आऊँ उन्हें मुमकिन ही नहीं है – हसरत मोहानी

Updated: February 28, 2017 — 12:23 pm
loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017