Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Category: अहमद फ़राज़ शायरी

अहमद फ़राज़ शायरी – तुम तकल्लुफ़ को भी इख़्लास

तुम तकल्लुफ़ को भी इख़्लास समझते हो ‘फ़राज़’
दोस्त होता नहीं हर हाथ मिलाने वाला – अहमद फ़राज़

अहमद फ़राज़ शायरी – जब तलक दूर है तू

जब तलक दूर है तू तेरी परस्तिश कर लें
हम जिसे छू ना सकें, उसको खुदा कहते हैं – अहमद फ़राज़

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017