Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी – दम लिया था न क़यामत

दम लिया था न क़यामत ने हनूज़
फिर तिरा वक़्त-ए-सफ़र याद आया – मिर्ज़ा ग़ालिब

मीर तक़ी मीर शायरी – याद उसकी इतनी ख़ूब नहीं

याद उसकी इतनी ख़ूब नहीं ‘मीर’ बाज़ आ
नादान फिर वो जी से भुलाया न जाएगा – मीर तक़ी मीर

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017