Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Tag: कैफ़ी आज़मी हिंदी शायरी संग्रह

कैफ़ी आज़मी शायरी – जायेंगे कहाँ सूझता नहीं

जायेंगे कहाँ सूझता नहीं
चल पड़े मगर रास्ता नहीं
क्या तलाश है, कुछ पता नहीं
बुन रहे क्यूँ ख़्वाब दम-ब-दम – कैफ़ी आज़मी

कैफ़ी आज़मी शायरी – बहार आए तो मेरा सलाम

बहार आए तो मेरा सलाम कह देना
मुझे तो आज तलब कर लिया है सहरा ने – कैफ़ी आज़मी

कैफ़ी आज़मी शायरी – रेखाओं का खेल है मुक़द्दर

रेखाओं का खेल है मुक़द्दर,
रेखाओं से मात खा रहे हो ।
क्या गम है जिसको छुपा रहे हो,
तुम इतना जो मुस्कुरा रहे हो । – कैफ़ी आज़मी

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017