Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Tag: चुनिंदा इक़बाल अज़ीम शायरी

इक़बाल अज़ीम शायरी – अपनी मिट्टी ही पे चलने

अपनी मिट्टी ही पे चलने का सलीक़ा सीखो
संग-ए-मरमर पे चलोगे तो फिसल जाओगे – इक़बाल अज़ीम

इक़बाल अज़ीम शायरी – आदमी जान के खाता है

आदमी जान के खाता है मोहब्बत में फ़रेब
ख़ुद-फ़रेबी ही मोहब्बत का सिला हो जैसे – इक़बाल अज़ीम

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017