Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Tag: निदा फ़ाज़ली की शायरी

निदा फ़ाज़ली शायरी – ग़म हो कि ख़ुशी दोनों

ग़म हो कि ख़ुशी दोनों कुछ दूर के साथी हैं
फिर रस्ता ही रस्ता है हँसना है न रोना है – निदा फ़ाज़ली

निदा फ़ाज़ली शायरी – हर एक बस्ती बदलती है

हर एक बस्ती बदलती है रंग रूप कई
जहाँ भी सुब्ह गुज़ारो उधर ही शाम करो – निदा फ़ाज़ली

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017