Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Tag: फैज अहमद फैज हिंदी शायरी

फैज अहमद फैज शायरी – रिन्दाने-जहां से ये नफरत ऐ

रिन्दाने-जहां से ये नफरत, ऐ हजरते-वाइज क्या कहना,
अल्लाह के आगे बस न चला, बंदों से बगावत कर बैठे। – फैज अहमद फैज

फैज अहमद फैज शायरी – दिल नाउम्मीद तो नहीं नाकाम

दिल नाउम्मीद तो नहीं नाकाम ही तो है,
लंबी है गम की शाम, मगर शाम ही तो है। – फैज अहमद फैज

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017