Arz Kiya Hai 4 U

Best Hindi Sher O Shayari Collection

Tag: मोमिन ख़ाँ मोमिन हिंदी शायरी

मोमिन ख़ाँ मोमिन शायरी – आप की कौन सी बढ़ी

आप की कौन सी बढ़ी इज़्ज़त
मैं अगर बज़्म में ज़लील हुआ – मोमिन ख़ाँ मोमिन

मोमिन ख़ाँ मोमिन शायरी – मैं भी कुछ ख़ुश नहीं

मैं भी कुछ ख़ुश नहीं वफ़ा कर के
तुम ने अच्छा किया निबाह न की! – मोमिन ख़ाँ मोमिन

loading...
Arj Kiya Hai 4 U © 2017