बशीर बद्र शायरी – गुलाबो की तरह दिल अपना

गुलाबो की तरह दिल अपना शबनम में भिगोते है,
मोहब्बत करने वाले ख़ूबसूरत लोग होते है – बशीर बद्र