अहमद फ़राज़ शायरी – अब ज़मीं पर कोई गौतम

अब ज़मीं पर कोई गौतम न मोहम्मद न मसीह,
आसमानों से नए लोग उतारे जाएँ। – अहमद फ़राज़