बशीर बद्र शायरी – ख़ुदा की इतनी बड़ी क़ायनात

ख़ुदा की इतनी बड़ी क़ायनात में मैंने
बस एक शख़्स को माँगा मुझे वही न मिला – बशीर बद्र