बशीर बद्र शायरी – तुम मोहब्बत को खेल कहते

तुम मोहब्बत को खेल कहते हो
हम ने बर्बाद ज़िंदगी कर ली – बशीर बद्र