बशीर बद्र शायरी – हर चेहरे में तेरा चेहरा

हर चेहरे में तेरा चेहरा ढूंढ के तुझ को खो बैठे
घर का रस्ता भूल गये हम घर आने की जल्दी में – बशीर बद्र